आई फ्लू इनफेक्शन (Eye Flu Infection): तेजी से फैल रहा है आई फ्लू इंफेक्शन, जाने लक्षण और बचाव के तरीके

आई फ्लू इनफेक्शन (Eye Flu Infection) :मौसम के बदलने के साथ आंखों का इन्फेक्शन तेजी से फैल रहा है, दिल्ली एनसीआर में इसके कई मामले सामने आए हैं ,इसे कंजक्टिवाइटिस  भी कहते हैं यह एक आंखों की बीमारी है , Eye Flu  के बढ़ते केसाे ने लोगों को डरा दिया है ,अगर आपके घर में भी किसी को कंजेक्टिवाइटिस या Eye Flu Infection  हुआ है तो इस ब्लॉग में आई फ्लू से संबंधित जानकारी दी गई है ,जैसे क्या वजह है आई फ्लू इनफेक्शन (Eye Flu Infection)  के केस भारत में अचानक बढ़ने लगे हैं? इससे बचने के उपाय क्या क्या है? अगर यह आपके घर में किसी को हो गया है तो उसका उपचार कैसे करें? इस तरह के प्रश्नों का उत्तर आप इस ब्लॉग में दिया जाएगा।

आई फ्लू इनफेक्शन (Eye Flu Infection)
आई फ्लू इनफेक्शन (Eye Flu Infection)

क्या है आई फ्लू इनफेक्शन (Eye Flu Infection)

आंखों में होने वाले इन्फेक्शन (Infection) को आई फ्लू कहा जाता है, इसमें इंफेक्शन होने वाले व्यक्ति की आंखें लाल हो जाती हैं और उसकी आंख सूज जाती है, जिसके कारण आंखों से पानी निकलता रहता है। आई फ्लू को कंजक्टिवाइटिस  कहा जाता है या इसे पिंक आई के रूप में भी जाना जाता है, यह एक संक्रमण है जो कंजेक्टिवा की सूजन का कारण बनता है ,कंजेक्टिवा एक क्लियर लेयर होती है ,जो आंख के सफेद भाग और पलकों की आंतरिक परत को कवर करती है। देशभर में मानसून का मौसम चल रहा है जिसके कारण कम तापमान और हाई ह्युमिडिटी के कारण, लोग बैक्टीरिया, वायरस और एलर्जी के संपर्क में आते हैं, जो इंफेक्शन एलर्जी और आई फ्लू इनफेक्शन (Eye Flu Infection) जैसे कंजेक्टिवाइटिस का कारण बनते हैं।

कैसे फैलता है Eye Flu Infection

विशेषज्ञों की मानें तो अगर आप किसी ऐसे व्यक्ति के संपर्क में आते हैं जो आई फ्लू से संक्रमित है तो आपको यह वायरस आपको हो सकता है, यह संक्रमित व्यक्ति की आंखों से निकलने वाले आंसू के संपर्क में आने से बढ़ता है इसके अलावा संक्रमित व्यक्ति की खांसी के दौरान या चिकने से भी संक्रमण फैल सकता है, वायरल  कंजेक्टिवाइटिस ( Viral Conjunctivitis )अत्यधिक संक्रामक है ,यह दूषित सतहों  या स्वसन बूंदों के सीधे संपर्क से आसानी से फैल सकता है।  आई फ्लू दूषित हाथों, मेकअप या कांटेक्ट लेंस जैसे शार्ट से बैक्टीरिया के संपर्क में आने के कारण भी हो सकता है।

आई फ्लू इनफेक्शन (Eye Flu Infection) के लक्षण

इसमें संक्रमित व्यक्ति की आंखों में लाल पर आ जाता है साथ ही आंखों पर सूजन, खुजली और सफेद तरल पदार्थ जैसे निकलता रहता है।  आंख पिंक कलर जैसी हो जाती है।

आई फ्लू इनफेक्शन (Eye Flu Infection) के बचाव के उपाय

  1. थोड़ी-थोड़ी समय में आप अपने हाथों की सफाई करते रहें।
  2.  अपने आसपास सफाई का खास ध्यान रखें।
  3.  अगर बाहर जाना जरूरी हो तो जाते समय काला चश्मा पहन कर जाएं।
  4.  आंखों को बार-बार ना छूएं।
  5.  आंखों को समय-समय पर धोते रहें।
  6.  अगर कोई व्यक्ति आई फ्लू इनफेक्शन (Eye Flu Infection)  से संक्रमित है तो व्यक्ति के बेड, तोलिया या कपड़े का इस्तेमाल आप ना करें।
  7.  जिन लोगों को आई फ्लू इनफेक्शन है वह स्कूल, कॉलेज और ऑफिस जाने से बचें।
  8.  थोड़ी थोड़ी देर में ठंडे पानी से भी आंख को धो सकते हैं।
आई फ्लू इनफेक्शन (Eye Flu Infection)
आई फ्लू इनफेक्शन (Eye Flu Infection)

आई फ्लू इनफेक्शन (Eye Flu Infection)  होने पर क्या करें

  1. अगर किसी व्यक्ति को आई फ्लू हो जाए तो सबसे पहले उसे डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।
  2.  इसके बाद डॉक्टर के कहे अनुसार नियमित दवाई ले।
  3.  अपनी उपयोग की चीजें जैसे रुमाल तो लिया या बिस्तर किसी के साथ भी शेयर ना करें।
  4.  इंफेक्शन होने के बाद भूल कर भी कांटेक्ट लेंस का यूज ना करें।
  5.  आई ड्रॉप डालने से पहले अपने हाथों को अच्छी तरह से साफ कर लें।
  6.  यदि आप बाहर से आते हैं तो सबसे पहले अपने हाथ साफ करें उसके बाद अपनी आंखों को ठंडे पानी से भी साफ कर सकते हैं। 

 

कितने दिन में ठीक होता है आई फ्लू इनफेक्शन (Eye Flu Infection)

यह एक वायरल कंजेक्टिवाइटिस है तो यह अपने आप ही ठीक होने वाली एक बीमारी है। आई फ्लू इनफेक्शन (Eye Flu Infection)  ठीक होने में 4 से 6 दिन लग सकते हैं कई केस में तो यह देखा गया है की संक्रमण एक के बाद दूसरी आंख में भी हो जाता है तो इसे ठीक होने में थोड़ा ज्यादा समय भी लग सकता है।

Disclaimer: ब्लॉक में किए दी गई सलाह और सुझाव सिर्फ सामान्य सूचना के लिए हैं और इन्हें  चिकित्सक सलह के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए। अगर आपको आई फ्लू इनफेक्शन (Eye Flu Infection)  होता है तो आपको सीधे डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।

Leave a Comment