ITR e-Verify रिटर्न अभी तक नहीं आया तो करें ये काम

आइटीआर ई-वेरीफाई कैसे करें? How to E- verify ITR ?

Income Tax Return : ITR  रिटर्न करने की समय अवधि समाप्त हो गई है, आपने अपना रिटर्न फाइल तो करा दिया है लेकिन अभी तक टैक्स रिफंड नहीं आया। ITR भरने की आखिरी तारीख 31 जुलाई 2023 थी।  स्थिति के बीच में करदाताओं ने आईटीआर दाखिल किया है, उनका प्रोसेस अभी पूरा क्यों नहीं हो रहा है? ITR e-Verify

यदि आपका Income Tax Return नहीं आया है तो पहले जांच कर लें कि आपने आइटीआर ITR  भरते समय ITR e-Verify किया है या नहीं। यदि आप अपना आइटीआर ई वेरीफाई नहीं करते है तो आपके आइटीआर की प्रक्रिया अधूरी मानी जाती है, जिस कारण आपकी फाइलिंग की प्रक्रिया रोक दी जाती है।  तो आइए जानते हैं कैसे करें आइटीआर फॉर ई वेरीफाई? How to verify ITR e?

 

Income Tax Return

आइटीआर को भरते समय आपको ITR e-Verify  करना अनिवार्य होता है। यदि आपने अपना आईटीआर दाखिल कर दिया है लेकिन आपने उसे e-Verify  नहीं किया है। तो आपको रिफंड नहीं मिल पाएगा, इसके लिए आपको पहले अपना ITR e-Verify  करना होगा। इनकम टैक्स रिटर्न दाखिल करने के बाद आखरी स्टेप के तहत उसे  e-Verify करना जरूर होता है।  आइटीआर को ऑफलाइन इनकम टैक्स विभाग के बेंगलुरु स्थित सेंट्रल प्रोसेसिंग सेंटर में हार्ड कॉपी प्रिंट करके और वितरित करके वेरीफाई किया जा सकता है लेकिन ई वेरीफाई कराना बहुत ही आसान है और इसे आप अपने स्मार्टफोन या लैपटॉप से ऑनलाइन माध्यम से कर सकते हैं।  तो आइए जानते हैं आइटीआर ई वेरीफाई कैसे करें?

आइटीआर ई-वेरीफाई कैसे करें? How to E- verify ITR ?

e-Verify  करने के लिए आयकर विभाग आपको आधार ओटीपी प्रयोग करके या इंटरनेट बैंकिंग, बैंक खाते या डिमैट खाते का उपयोग करके e-verification का विकल्प उपलब्ध करवाता है।  यदि कोई डिजिटल हस्ताक्षर प्रमाण पत्र के माध्यम से भी ई वेरीफाई करता है तो वह कर सकता है।

ऐसे करें आइटीआर ई वेरीफाई

  • सबसे पहले आयकर विभाग के ईफाइलिंग पोर्टल पर जाएं।
  • बॉर्डर पर जाने के बाद आपको  e-Verify Return रिटर्न पर क्लिक करना होगा।
आइटीआर ई-वेरीफाई कैसे करें? How to E- verify ITR ?
  • आपको अपना पैन, मूल्यांकन बर्थ जिसके लिए सत्यापन किया जा रहा है जैसे 2023-24 और एक्नॉलेजमेंट संख्या दर्ज करनी होगी।
  • उदाहरण के रूप में आप अपने पैन और पासवर्ड से बिल लॉगइन कर सकते हैं।
  • फिर My Account पर जाएं और फिर ई वेरीफाई रिटर्न e-Verify Return पर क्लिक करें।
  • नया पेज आपके सामने उस फाइल को प्रदर्शित करेगा जिसके लिए अभी तक  e-Verify नहीं हुआ है।

आधार ओटीपी के जरिए वेरिफिकेशन की प्रक्रिया काफी आसान होती है। कोई भी व्यक्ति रिटर्न की पुष्टि और e-Verify  करने के लिए आधार के साथ रजिस्टर किए गए मोबाइल नंबर पर आए ओटीपी का इस्तेमाल कर सकता है।  यदि आपके पास पहले से ही ई वेरीफिकेशन कोड है तो आप उस का उपयोग भी कर सकते हैं या इसे अपने नेट बैंकिंग पोर्टल, डीमेट अकाउंट या ऑफलाइन एटीएम के माध्यम से भी उत्पन्न कर सकते हैं।  ई वेरीफिकेशन कोर्ट का उपयोग ऑनलाइन रिटर्न फाइलिंग को वेरीफाई करने के लिए किया जा सकता है।

जब आप अपना ई वेरीफाई करते हैं उसके बाद आपको एक मैसेज आता है, जहां आपके आधार ओटीपी द्वारा आईटीआई वेरीफाई की सूचना दी जाती है या आपकी फाइलिंग पोर्टल में पंजीकृत अपनी ईमेल आईडी पर भी ई-मेल पा सकते हैं। 

कहां फाइल करें आइटीआर

आप अपना रिटर्न सीधे ई फाइलिंग वेबसाइट पर यह किसी टैक्स फाइलिंग वेबसाइट के जरिए दाखिल कर सकते हैं, यह वेबसाइट रिटर्न दाखिल करने के लिए मामूली शुल्क लेती हैं। आप अपनी ओर से ITR ( Income Tex Return) रिटर्न दाखिल करने के लिए किसी सीए की मदद भी ले सकते हैं।  आइटीआर फाइल करते समय आपको ध्यान देना होगा कि फाइल करते समय आपकी सभी जानकारी ठीक और सही तरीके से भरी गई हो जैसे बैंक अकाउंट नंबर, ईमेल आईडी, पैन कार्ड नंबर, आपका नाम आदि को सही तरह से जांच कर ही अपना आइटीआर फाइल करें ,नहीं तो आपके आइटीआर रिटर्न में काफी समय लग सकता है।

क्या होता है आईटीआई ITR ( Income Tex Return)

आइटीआर ITR ( Income Tex Return) एक तरह से आपकी इनकम का प्रूफ होता है। इसे सभी सरकारी और सभी प्राइवेट संस्थाएं इनकम प्रूफ के तौर पर स्वीकार करती हैं। यदि आपको कभी बैंक से लोन लेना हो तो बैंक में आपसे कई बार आईटीआर मांगते हैं ,यदि आप हर साल अपना आइटीआर फाइल करते हैं तो आप को बैंक से लोन लेने में आसानी होगी।

ये भी जानें-

ऑनलाइन जॉब का ऑफर कर उड़ाए 37 लाख 

Gyanvapi Survey Case : हाई कोर्ट आज सुना सकता है बड़ा फैसला

आइटीआर फाइल करने की तारीख बढ़ सकती है या नहीं?

सीमा-अंजू से प्रेरित होकर नाबालिक लड़की ने किया ऐसा काम

तेजी से फैल रहा है आई फ्लू इंफेक्शन, जाने लक्षण और बचाव के तरीके

Leave a Comment