युवक ने लगाया हिंदुस्तान जिंदाबाद का नारा, दोस्तों ने कर दी हत्या

छत्तीसगढ़ के क्षेत्र दुर्ग जिले में गदर 2 फिल्म देखने के बाद एक युवक ने हिंदुस्तान जिंदाबाद का नारा लगाया, जिसकी कीमत उसे अपनी जान देकर चुकानी पड़ी।  यह घटना खुर्सीपार थाना क्षेत्र के आईटीआई मैदान में हुई, जहां पर हिंदुस्तान जिंदाबाद के नारे से गुस्साए उसके दोस्तों ने पीट-पीटकर युवक की हत्या कर दी।

देख रहे थे गदर 2

यह मामला दरअसल आईटीआई मैदान में शनिवार की शाम को दो युवक मोबाइल पर गदर 2 अभिनेता सनी देओल की नई मूवी देख रहे थे, इसी दौरान एक सीन पर मलकीत सिंह ने अपना रिएक्शन दिया, तभी बगल में खड़े दूसरे समुदाय के लोगों को इस बात से ऐतराज हुआ, जिस पर गुस्साए दूसरे समुदाय के युवकों ने लात घूसों से उसकी पिटाई कर उसे अधमरा कर दिया, जिसके बाद उसकी हालत गंभीर हो गई। 

घटना की जानकारी जैसे ही परिवार वालों को लगी वह उसे स्थानीय अस्पताल ले गए जहां हालत में कोई सुधार नहीं होने पर उसे रायपुर रेफर कर दिया गया, जहां पर सुबह करीब 4:00 बजे इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

घर से करें ये काम,होगी लाखों की कमाई!

PMKUSUM: इस योजना से कमाए लाखों रुपए,जल्द उठाएं लाभ

खुशखबरी! अब हर महीने खाते में आएंगे ₹3000

पुलिस ने आरोपियों को धर पकड़ा

जैसे ही यह खबर पुलिस अधिकारियों को पता चली तो पूरे मामले की गंभीरता को देखते हुए दुर्ग पुलिस ने अपनी 3 टीम बनाकर घटना में शामिल आरोपियों की धरपकड़ शुरू कर दी, लगभग दोपहर 1:00 बजे तक सभी आरोपियों को पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया हालांकि युवक की मौत के बाद मुआवजा तथा नौकरी की मांग पर अड़े लोग हाईवे से उठकर आने के मुख्य गेट के सामने बैठ गए, अभी तक की जानकारी के मुताबिक फिल्म देखने के दौरान आईटी मैदान में नशे की हालत में बैठे कुछ विशेष समुदाय के युवकों को भारत माता और हिंदुस्तान जिंदाबाद का नारा लगाना पसंद नहीं आया जिस पर गुस्साए  युवकों ने पहले मलकीत सिंह से झगड़ा किया फिर  क्रूरता से उसकी पीट पीट कर हत्या कर दी।

धरने पर बैठे परिवार वाले

घटना के बाद मृतक के परिजनों का यह भी आरोप है कि मलकीत सिंह की हत्या में जो युवक आरोपी शामिल है उनका कांग्रेसी नेताओं से परिचय है इसी प्रभाव के चलते बहुत से लोग उन्हें बचाने का प्रयास भी कर रहे हैं उसके बाद मृतक के परिजन न्याय और मुआवजे की मांग को लेकर धरने पर बैठ गए शाम होते ही दुर्ग के बीजेपी सांसद विजय बघेल और पूर्व विधानसभा अध्यक्ष प्रेम प्रकाश पांडे भी वहां मौके पर पहुंच गए और उन्होंने पुलिस पर सरकार के दबाव में काम करने का आरोप लगाया।

वहीं इस घटना को लेकर छत्तीसगढ़ पंचायत के 7 सिख समाज के लोगों ने ज्ञापन देकर थाने के सामने 24 घंटे धरना देने की चेतावनी दी है उन्होंने कहा है कि अगर परिजनों को पांच लाख का मुआवजा नहीं दिया गया  तो वह प्रवेश द्वार को भी बंद कर देंगे।

ये भी जानें-

ISRO के इस मिशन पर दुनिया की नज़र,आप भी जाने इसकी खासियत

SSC Stenographer 2023:10+2 के लिए आई कई क्षेत्रों में नौकरियां, बस करना होगा आवेदन

Chandrayaan-3 का प्रोपल्शन मॉड्यूल से अलग हुआ विक्रम लैंडर

Seema Haider निभाएंगी राॅ एजेंट का किरदार!

ऑनलाइन जॉब का ऑफर कर उड़ाए 37 लाख 

Leave a Comment